टोपी पहनने वाले तिलक लगा रहे हैं, लगता है चुनाव आ रहे हैं | ढोंग से हिन्दू विरोधी छवि बदलेगी ?

राहुल गाँधी उत्तर प्रदेश के चुनाव अभियान को आगे बढ़ाते हुए अयोध्या पहुँच गए और वहां हनुमान जी के मंदिर में भी गए | हालाँकि उनकी तथाकथित धर्मनिरपेक्षता ने उनको इतनी ही इज़ाज़त दी और वो श्री राम जन्मभूमि में बने भगवान श्री राम के मंदिर नहीं गए | पहले तो आपको याद दिला दूं कि ये वही कांग्रेस है जिस ने सत्ता में रहते हुए भगवान श्री राम को काल्पनिक पात्र बताया था और राम सेतु को मिथक, ये लोग शुरू से ही अयोध्या में भगवान श्री राम के मंदिर बनाये जाने का विरोध करते हैं, हिंदुओं को आतंकवादी बताते हैं और असली आतंकवादियों और देशद्रोहियों को मासूम एवं निरपराध बताकर उनको मिलने वाली सजा का विरोध करते हैं तथा उनका नाम जी साहब आदि संबोधनों के साथ पूरी इज़्ज़त से लेते हैं | ये बात अब किसी से छुपी नहीं है कि कांग्रेस आये दिन वोट बैंक की राजनीति के लिए हिन्दू धर्म का अपमान करती है तथा वर्तमान समय में इसकी छवि एक घोर हिन्दू विरोधी पार्टी की है |

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के पक्ष में हवा बनाने के लिए प्रशांत किशोर को ठेका दिया गया है | अब उनकी सलाह का ही असर होगा कि कांग्रेस को अचानक से हिन्दू धर्म के आराध्य याद आने लगे | पहले सुना था कि सोनिया गाँधी अपने बनारस दौरे में मंदिर जाकर पूजा अर्चना करेंगी लेकिन बाद में बताया गया कि अपने ख़राब स्वास्थ्य की वजह से वो ऐसा नहीं कर पायीं | अब राहुल गाँधी अचानक से अयोध्या में हनुमान जी के मंदिर जा पहुंचे | आयेदिन हिन्दू धर्म का अपमान करने वाले एवं मुस्लिम आयोजनों में टोपी पहनने वाले लोग अचानक से तिलक लगाकर हिन्दू धर्म के मंदिरों के चक्कर लगा रहे हैं | लगातार मिल रही हारों के बाद अब कांग्रेस को अपनी हिन्दू विरोधी छवि चिंता में डाल रही है और ये सब अपनी हिन्दू विरोधी छवि सुधरने के लिए किया जा रहा है | लेकिन इस सब ढोंग से अब कांग्रेस की हिन्दू विरोधी छवि सुधरने वाले नहीं है | जनता अब इनके हिन्दू विरोध के बारे में अच्छे से जान गयी है |

हिन्दू धर्म को जानने वाले अच्छे से जानते हैं कि जहाँ भगवान श्री राम का अपमान हो वहां हनुमान जी की कृपा हो ही नहीं सकती | अब भगवान श्री राम का इतना अपमान करने के बाद यदि कांग्रेस के युवराज हनुमान मंदिर जाते भी हैं तो उस से न तो कांग्रेस की हिन्दू विरोधी छवि सुधरने वाली है और न ही इनको हनुमान जी का आशीर्वाद मिलने वाला है |

लगातार हिन्दू धर्म का अपमान करने वाली पार्टी के इन झूठे हथकंडों से यदि कोई हिन्दू प्रभावित होता है तो मैं उसे मूर्ख ही कहूंगा | जो लोग भगवान श्री राम के अस्तित्व को ही नकार चुके हैं और उनको काल्पनिक पात्र बताते हैं उनसे हिन्दू धर्म के सम्मान की उम्मीद कोई मूर्ख ही कर सकता है | जनता से मैं यही कहूंगा कि आप अपनी आँखें खुली रखो और इनके इन झूठे हथकंडों से प्रभावित मत हो |