इलाहाबाद में कत्लखानों पर कार्यवाही योगी जी का वादे पूरे करने की दिशा में सराहनीय कदम

उत्तर प्रदेश में सपा एवं बसपा सरकारों के समय कई गैरकानूनी कत्लखाने खोले गए और कई में तो इन पार्टियों के नेताओं के शामिल होने के भी आरोप लगते रहे | ऐसे कत्लखानों पर पिछली दोनों सरकारों के समय में किसी भी प्रकार की कोई रोक न लगायी जाना ऐसे कत्लखानों में इन पार्टियों के नेताओं की हिस्सेदारी का शक और भी मजबूत करता है | ऐसे कत्लखानों में गैरकानूनी तरीके से लायी गयीं गायों के काटे जाने की खबरें भी कई बार सामने आयीं |

भाजपा ने गैरकानूनी कत्लखानों का मुद्दा चुनावों के बीच जोर शोर से उठाया था तथा ऐसे सभी कत्लखानों को सरकार बनाने के तुरंत बाद बंद कराने का वादा भी किया था | रविवार को योगी आदित्यनाथ जी ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली और सोमवार को ही इलाहाबाद में ऐसे दो गैरकानूनी कत्लखानों के बंद होने की खबर सामने आयी | चुनावी वादे पर इतनी शीघ्रता से अमल का यह बहुत ही सराहनीय उदाहरण है | ऐसे गैरकानूनी कत्लखानों पर कार्यवाही से प्रदेश में गौ-हत्या पर भी रोक लगाने में आसानी होगी | योगी जी सन्यासी हैं तथा हिंदुत्व के बड़े और जाने माने चेहरे हैं | उनसे पूरे प्रदेश को उम्मीद थी कि वो इस दिशा में जरूर कार्यवाही करेंगे | उम्मीद यही है कि आने वाले दिनों में हमें ऐसे कई कत्लखानों के बंद होने की खबरें मिलेंगी |

आशा करता हूँ कि योगी जी के नेतृत्व में भाजपा सरकार अपने सभी चुनावी वादों पर गंभीरता से कार्य करेगी तथा उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाने का प्रयास करेगी |

फोटो साभार -Hindustan Times