भारत असहिष्णु देश नहीं है – तस्लीमा नसरीन, कैटरीना कैफ

एक इंटरव्यू में बांग्लादेशी लेखिका तस्लीमा नसरीन ने कहा कि उनको नहीं लगता कि भारत में असहिष्णुता है | ज्यादातर लोग दूसरे धर्मों के लोगो की धार्मिक आस्थाओं के प्रति सहिष्णु हैं | उन्होंने ये भी कहा कि भारत में तथाकथित धर्मनिरपेक्ष लोग सिर्फ हिन्दुओं पर ही हमला क्यों करते हैं और दूसरे धर्मो के लोगो पर चुप क्यों हो जाते हैं ?

कैटरीना कैफ ने भी कल दिए एक इंटरव्यू में कहा कि भारत एक महान देश है और यहाँ असहिष्णुता नहीं है | मुझे सहिस्नुता पर चल रही सभी बातों की जानकारी नही है पर मैं महसूस करती हूँ कि भारत एक खास और सहिष्णु देश है , जब मैं भारत आई थी तो मुझे लगा कि मैं अपने घर आ गयी हूँ , मुझे भारत के लोगों ने जितना प्यार और सम्मान दिया है उतना दुनिया में किसी ने नही दिया और मैं अपनी पूरी जिन्दगी भारत में रहना चाहती हूँ |

बॉलीवुड में इस विषय पर फ़िलहाल दो पक्ष बने हुए हैं | जहां आमिर और शाहरुख़ को भारत में असहिष्णुता दिखाई देती है वहीँ अनुपम खेर, रवीना टंडन, मधुर भंडारकर और काफी अन्य लोगो ने भारत में असहिष्णुता की बात करने वालो का विरोध किया था |

फ़िलहाल हम ऐसे सभी लोगो से यही कहेंगे कि आप लोगों के प्रशंशक सिर्फ भारत में नहीं अन्य देशों में भी हैं | आपकी कही बातों का असर भारत कि छवि पर भारत के बाहर भी पड़ता है तो राजनीति में फसकर कोई भी ऐसा बयान न दें जिस से देश कि छवि पर कोई बुरा असर पड़े |